शैक्षिक वैश्वीकरण क्या हैं-What is Educational Globalization in Hindi

शैक्षिक वैश्वीकरण Educational Globalization का अर्थ शिक्षा के फैलाव एवं विस्तार से हैं। शिक्षा के क्षेत्र का विस्तार करना ही शैक्षिक वैश्वीकरण हैं। इसके अंतर्गत शिक्षा की संस्थाओं को अन्य देशों में स्थापित करने की योजना का निर्माण किया जाता हैं और शैक्षिक प्रशासन या शैक्षिक संगठन की स्थापना की जाती हैं। शिक्षा के वैश्वीकरण द्वारा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की व्यवस्था करना आसान हो जाता हैं।

शैक्षिक वैश्वीकरण के अर्थ को समझने हेतु यह आवश्यक है कि पहले यह समझा जाए कि वैश्वीकरण क्या हैं? What is Globalization.

वैश्वीकरण Globalization

शैक्षिक वैश्वीकरण (Educational Globlization) क्या हैं?

वैश्वीकरण का अर्थ हैं अपने विचारों, संस्कृति, नैतिक-मूल्यों या शिक्षा का विश्वभर में प्रचार-प्रसार करना। वैश्वीकरण को भूमंडलीकरण के नाम से भी जाना जाता हैं। सामान्य अर्थों में अगर हम कहें तो अपने राष्ट्र की विचारधारा का विश्व में प्रचार-प्रसार करना ही वैश्वीकरण हैं।

वैश्वीकरण से आशय तकनीकी, आर्थिक, ज्ञान, नैतिक-मूल्यों एवं अपने विचारों को सीमा से बाहर विस्तार करना।

नाईट

वैश्वीकरण Globalization में एक देश अपनी गतिविधियों से समस्त विश्व को प्रभावित करने की क्षमता रखता हैं। उदाहरण – अगर किसी देश में श्वेत-अश्वेत लोगों में असमानता होती हैं या देश के नागरिकों के मौलिक अधिकारों का हनन होता हैं तो वह समस्या संयुक्त राष्ट्र संघ में उठाया जाता हैं। जहाँ सभी देश के प्रतिनिधि होते हैं। जिस कारण उस समस्या का वैश्वीकरण हो जाता हैं अर्थात अब वह समस्या सिर्फ एक देश की नहीं अपितु विश्वभर की हो जाती गए।

वैश्वीकरण की विशेषता Globalization features

● वैश्वीकरण एक अंतरराष्ट्रीय प्रक्रिया हैं।
● यह किसी निश्चित क्षेत्र की घटना या विचारों का विश्व मे प्रचार एवं प्रसार करती हैं।
● वैश्वीकरण निरंतर चलने वाली एवं उद्देश्यपूर्ण प्रक्रिया हैं।
● यह परिवर्तनशील हैं इसमें स्थायित्व के गुणों का समावेश नही होता।
● वैश्वीकरण के सम्बंध विश्व से होता हैं।

वैश्वीकरण के उद्देश्य Aims of Globalization

1. वैश्वीकरण का मुख्य उद्देश्य अपने विचारों का विश्व मे प्रचार एवं प्रसार करना हैं।

2. वैश्वीकरण का उद्देश्य विश्व में एकजुटता लाना हैं जिससे वैश्विक समस्याओं का मिलकर सामना किया जा सकें।

3. ज्ञान और आर्थिक स्रोतों की खोज एवं विस्तार करना।

4. उत्पन्न वैश्विक समस्याओं का समाधान करना।

5. अंतरराष्ट्रीय संप्रभुता की रक्षा करना एवं शांति व्यवस्था कायम करना।

शैक्षिक वैश्वीकरण क्या हैं? What is educational globalization

एक देश की शिक्षा का विस्तार अन्य देशों में भी करना शैक्षिक वैश्वीकरण educational globalization का एक भाग हैं। सही मायने में केवल इससे जुड़े विचारों का ही नही अपितु अन्य देशों में अपनी शैक्षिक संस्थाएं स्थापित करने से भी होता हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ (UNO) में निरंतर शिक्षा से सम्बंधित सम्मेलन होते रहते हैं जिससे शिक्षा के वैश्वीकरण को लेकर सभी देशों के प्रतिनिधि विचार विमर्श करते रहते हैं।

देश में अन्य देशों की शैक्षिक संस्थाएं स्थापित करना या अपने देश की संस्थाओं को विदेशों में स्थापित करना यह शैक्षिक वैश्वीकरण का एक उत्तम उदाहरण हैं। इसके द्वारा शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि करने का कार्य किया जाता हैं। यह राष्ट्र के विकास हेतु एक उत्तम साधन का कार्य करती हैं।

वैश्वीकरण और शैक्षिक वैश्वीकरण में अंतर

वैश्वीकरण और शैक्षिक वैश्वीकरण को व्यापक रूप में देखा जाए तो दोनों का कार्य एक समान हैं दोनों ही अपने विचारों का विश्व में प्रचार-प्रसार करने का कार्य करते हैं पर दोनों समान गुण रखते हुए भी इनमें कुछ संकुचित सा अंतर हैं।

शैक्षिक वैश्वीकरण (Education Globalization) का क्षेत्र संकुचित हैं और वही वैश्वीकरण का क्षेत्र व्यापक हैं। शैक्षिक वैश्वीकरण में सिर्फ शिक्षा संस्थाओं और शिक्षा के विचारों का विश्वभर में प्रचार-प्रसार किया जाता हैं। वहीं वैश्वीकरण में सांस्कृतिक, आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक सभी विचारों एवं संस्थाओं का प्रचार-प्रसार किया जाता हैं।

वैश्वीकरण का निष्कर्ष (Conclusion of Globalization)

शैक्षिक वैश्वीकरण Educational Globalization शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि करने का एक उत्तम मार्ग हैं। जिसके द्वारा शिक्षा से जुड़े समस्त पहलुओं का प्रचार-प्रसार किया जाता हैं। जिससे उस देश का वर्चस्व अन्य देशों में पड़ता हैं और उसका विकास अन्य देशों की तुलना में अधिक होता हैं। दोस्तों वैश्वीकरण एक विश्वस्तरीय प्रक्रिया हैं और इसका संबंध विश्व की समस्त गतिविधियों से होता हैं। दोस्तों आज आपने जाना कि शैक्षिक वैश्वीकरण क्या हैं What is Educational Globalization , आपको यह पोस्ट लाभदायक लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। जिससे वह भी ज्ञान का प्रचार-प्रसार कर सकें। अपने बहुमूल्य सुझाव हेतु संदेश बॉक्स से संदेश भेजें।।

Previous articleशिक्षा का अर्थ, परिभाषा, विशेषता और प्रकार
Next articleव्यावसायिक शिक्षा क्या हैं – What is Vocational Education in hindi
नमस्कार दोस्तों मेरा नाम पंकज पालीवाल है, और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ. मैंने एम.ए. राजनीति विज्ञान से किया हुआ है, एवं साथ मे बी.एड. भी किया है. अर्थात मुझे S.St. (Social Studies) से जुड़े तथ्यों का काफी ज्ञान है, और इस ज्ञान को पोस्ट के माध्य्म से आप लोगों के साथ साझा करना मुझे बहुत पसंद है. अगर आप S.St. से जुड़े प्रकरणों में रूचि रखते हैं, तो हमसे जुड़ने के लिए आप हमें सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते हैं।

3 COMMENTS

  1. व्यवसायिक शिक्षा की भर्ती 2021 में भी चालू है क्या उज्जैन जिले के घटिया तहसील में भी है क्या और है तो कब इसके फॉर्म चालू होंगे कृपया बताएं

  2. भूमंडलीकृत भारत के लिए शिक्षा के क्या उद्देश्य हैं

    आप इसे बता दीजिए plz🙏🙏🙏🙏🙏

    • अपने राष्ट्र की परिस्थिति का आकलन करने एव अन्य देशो से अपने राष्ट्र की स्थिति की तुलना करने हेतु इसका शिक्षण अति आवश्यक होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here